Saturday , August 17 2019
Breaking News
Home / World / पंडरी में सर्व सुविधा युक्त राज्य स्तरीय पशु चिकित्सालय प्रारंभ : पशुधन विकास मंत्री श्री अग्रवाल ने किया लोकार्पण

पंडरी में सर्व सुविधा युक्त राज्य स्तरीय पशु चिकित्सालय प्रारंभ : पशुधन विकास मंत्री श्री अग्रवाल ने किया लोकार्पण

रायपुर। राजधानी रायपुर के पंडरी में सर्वसुविधा युक्त राज्य स्तरीय पशु चिकित्सालय एवं पशु रोग अन्वेषण प्रयोग शाला कल से शुरू हो गया। पशुधन विकास मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कल देर शाम लगभग दो करोड़ रूपए की लागत से निर्मित राज्य स्तरीय पशु चिकित्सालय का लोकार्पण किया। राज्य स्तरीय पशु चिकित्सालय में पशुओं के उपचार की सुविधा 24 घंटे उपलब्ध रहेगी। तीन ऑपरेशन थियेटर बनाए गए हैं।

                                    कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने इस अवसर पर कहा कि पशु पालकों, गौ सेवकों और पशु प्रेमियों के लिए आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण हैं। श्री अग्रवाल ने कहा कि पशु चिकित्सकों एवं पशुधन विकास विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों के उपर बीमार और दुर्घटना में घायल पशुओं के इलाज की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी होती है। मूक पशुओं का इलाज करना बहुत संवेदनशीलता का काम होता है। पहले पशुधन से लोगों की आर्थिक स्थिति का आंकलन किया जाता था। बीच में कुछ समय पशुधन के लिए संकटपूर्ण रहा। अब फिर से पशुधन पशुपालक किसानों की आर्थिक बेहतरी का माध्यम बन रहा है।

                                  श्री अग्रवाल ने कहा कि राज्य स्तरीय पशु चिकित्सालय में मेडिसीन, गाइनेकोलॉजी, पैथालॉजी, सर्जरी के लिए विशेषज्ञ चिकित्सकों की सेवाएं उपलब्ध होंगी। इस संस्था में पशुओं में होने वाले विभिन्न प्रकार के संक्रामक और गैर संक्रामक रोगों के इलाज के साथ-साथ दुर्घटना ग्रस्त पशुओं के तत्काल चिकित्सा की सुविधा उपलब्ध होगी। पशुधन प्रबंधन के प्रशिक्षण से पशुओं की उत्पादन क्षमता में वृद्धि हो सकेगी। संस्था में विभिन्न प्रकार के नवीनतम उपकरण जैसे एक्स-रे मशीन, बल्ड व यूरीन, एनलाईजर की व्यवस्था रहेगी। राज्य स्तरीय पशु चिकित्सालय में अत्याधुनिक ऑपरेशन थियेटर की सुविधा भी उपलब्ध रहेगी। रोग अन्वेषण प्रयोगशाला में पशुओं के खून और गोबर आदि की तत्काल जांच की जा सकेगी। उन्होंने बताया कि राज्य स्तरीय पशु चिकित्सालय में लैब सेंपल संग्रहण कक्ष, प्रयोगशाला, क्लीनिकल पैथालॉजी लैब, मेडिसीन विभाग, शल्य क्रिया अनुविभाग, लार्ज एनीमल ओपीडी, स्माल एनीमल ओपीडी, ऑपरेशन थियेटर, अंतः रोगी विभाग खोले गए हैं।

                                     संचालक पशु चिकित्साएं डॉ. एस.के. पाण्डेय ने बताया कि नया राज्य बनने के बाद छत्तीसगढ़ में पशु चिकित्सा की सुविधाएं तेजी से बढ़ी हैं। राज्य सरकार नई-नई योजनाओं से पशुपालक किसानों के हित में काम कर रही है। विगत 15 सालों में 227 ग्रामीण पशु औषधालय और 132 पशु चिकित्सालय खोले गए हैं। प्रदेश सरकार पशुधन के संरक्षण एवं संर्वधन के लिए हमेशा चिंता करती है। उन्होंने बताया कि राज्य स्तरीय पशु चिकित्सालय में आठ विशेषज्ञ पशु चिकित्सक और आठ सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी सहित जरूरत के अनुरूप स्टाफ की व्यवस्था की गई है। डॉ. पाण्डेय ने भी राज्य स्तरीय पशु चिकित्सालय और पशुरोग अन्वेषण प्रयोगशाला में उपलब्ध सुविधाओं के बारे में विस्तार से बताया। पशुधन विकास मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल सहित सभी अतिथियों ने राज्य स्तरीय पशु चिकित्सालय में उपलब्ध सुविधाओं का जायजा लिया।

About admin

Check Also

अटल विकास यात्रा में बस्तर को मिली एक बड़ी सौगात, सीएम ने कहा रेल मार्ग से खुलेंगे विकास के दरवाजे

जगदलपुर। प्रदेश व्यापी अटल विकास यात्रा के तहत आज छत्तीसगढ़ के आदिवासी बहुल बस्तर संभाग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *