Monday , May 27 2019
Breaking News
Home / World / केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने छत्तीसगढ़ में रेल सुविधाओं के विस्तार के लिए दी बड़ी सौगात

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने छत्तीसगढ़ में रेल सुविधाओं के विस्तार के लिए दी बड़ी सौगात

कोरबा। छतीसगढ़ में रेल नेटवर्क के विस्तार में आज का दिन ऐतिहासिक साबित हुआ। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अटल विकास यात्रा के अंतर्गत आज कोरबा जिले के हरदीबाजार में आयोजित आमसभा में जन समुदाय की उपस्थिति में 09 हजार 952 करोड़ रूपये की 345.5 किलोमीटर लम्बी चार नई रेल लाईन परियोजनाओं का शिलान्यास किया। छत्तीसगढ़ में रेल नेटवर्क के विस्तार की दिशा में यह एक बड़ी सौगात है। आम सभा में कटघोरा-मुंगेली-कवर्धा से होकर डोंगरगढ़ तक 5950 करोड़ रूपए की लागत की 255 किलोमीटर लंबी स्वीकृत नई रेल लाईन परियोजना के लिए संयुक्त भागीदारी अनुबंध पत्र पर भी हस्ताक्षर किए गए। केंद्र और राज्य शासन की विभिन्न जन हितैषी योजनाओं के तहत तीन हजार हितग्राहियों को सामग्री का वितरण भी किया गया। इस अवसर पर वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री अमर अग्रवाल, संसदीय सचिव लखनलाल देवांगन, सांसद कोरबा डॉ. बंशीलाल महतो, सांसद बिलासपुर लखनलाल साहू भी उपस्थित थे।

                           आम सभा में ईस्ट-वेस्ट रेल कारीडोर परियोजना के तहत गेवरा रोड से पेंड्रा रोड तक चार हजार 970 करोड़ रूपये की लागत से 135.3 किलोमीटर नई रेल लाईन के लिए शिलान्यास किया गया। इस परियोजना के तहत नौ नये रेलवे स्टेशन बनाए जायेंगे। धरमजयगढ़ से कोरबा तक एक हजार 686 करोड़ रूपये की लागत की 63 किलोमीटर नई रेल लाईन का भी शिलान्यास हुआ। इस रेल लाईन पर 06 नये रेलवे स्टेशन बनेंगे। धरमजयगढ़ से कोरबा तक रेल लाईन का निर्माण ईस्ट रेल कारीडोर परियोजना के द्वितीय चरण के तहत होगा। खरसिया से धरमजयगढ़ तक 131 किलोमीटर नई रेल लाईन के लिए भी शिलान्यास अटल विकास यात्रा की आम सभा में किया गया। यह रेल लाईन ईस्ट रेल कारीडोर के प्रथम चरण का हिस्सा है और इसकी लागत तीन हजार 55 करोड़ रूपये है।

                            मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल वीडिया कांफ्रेसिंग के जरिए के हरदीबाजार से ही कोरिया जिले के चिरमिरी- नागपुर रोड हाल्ट तक 17 किलोमीटर की नई रेल लाईन का भी शिलान्यास किया। इस योजना की अनुमानित लागत 241 करोड़ रूपये है। इस रेल लाईन के बन जाने से अंबिकापुर से बिलासपुर दुर्ग और अनूपपुर-जबलपुर रूट पर चलने वाली सभी रेलगाड़ियां सीधे चिरमिरी होकर गुजरेंगी। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल की उपस्थिति में कटघोरा-करतला-मुंगेली-कवर्धा से खैरागढ़ होते हुए डोंगरगढ़ तक 255 किलोमीटर नई रेल लाईन बिछाने के लिए छत्तीसगढ़ रेल कार्पोरेशन द्वारा परियोजना को पूरा करने के लिए संयुक्त भागीदारी अनुबंध पत्र पर हस्ताक्षर भी किए गए। परियोजना के लिए तैयार विस्तृत कार्य रिपोर्ट के अनुसार इसकी लागत पांच हजार 950 करोड़ रूपये अनुमानित है।

                            मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने हरदीबाजार की आम सभा में दो हजार श्रमिकों को सुरक्षा उपकरण, श्रमिकों के 706 बच्चों को पढ़ाई के लिए छात्रवृत्तियां, श्रमिक भगिनी प्रसूति योजना के तहत 99 महिलाओं को सहायता राशि और विश्वकर्मा दुर्घटना मृत्यु अंत्येष्टि-अनुग्रह राशि योजना के श्रमिकों के 21 परिजनों को सहायता राशि का वितरण किया। इसी प्रकार 42 हितग्राहियों को रिलींग मशीन, सहज बिजली बिल योजना, सौभाग्य योजना के प्रमाण पत्र और प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत निःशुल्क रसोई गैस कनेक्शन का भी वितरण हितग्राहियों को किया गया।

About admin

Check Also

अटल विकास यात्रा में बस्तर को मिली एक बड़ी सौगात, सीएम ने कहा रेल मार्ग से खुलेंगे विकास के दरवाजे

जगदलपुर। प्रदेश व्यापी अटल विकास यात्रा के तहत आज छत्तीसगढ़ के आदिवासी बहुल बस्तर संभाग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *